Machine Learning क्या है और कैसे ये हमारी जिंदगी बदल देगा ?

Machine Learning क्या है? दोस्तों आज के इस बेहद खास पोस्ट में हम इसी टॉपिक पर विस्तार से बात करेंगे | वैसे तो आमतौर पर कई लोग already Machine Learning के नाम से वाकिफ होंगे | लेकिन असल में Machine Learning क्या है और इसका काम क्या होता है ? इसकी जानकारी लोगो को अभी नहीं है |

दोस्तों आज के दौर में हर क्षेत्र में कंप्यूटर का प्रयोग होता है ये तो आप अच्छे से जानते हो | और इसके साथ कंप्यूटर में प्रयोग होने वाले सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर लगातार अपडेट होते रहते हैं ताकि काम को और सटीक तरीके से और जल्दी किया जा सके |

इसी क्रम में अब ऐसी -ऐसी मशीन बनने वाली हैं जो इंसानो की तरह ही सोच पायेगी और वैसी ही आटोमेटिक काम भी कर पाएंगी | ये कहना बिलकुल गलत नहीं होगा की आने वाला दौर मशीन का ही होगा | इंसान अब मशीन से काम लेने के बारे सोच ही नहीं रहे दोस्तों बल्कि कई फील्ड में मशीन द्वारा सफलतापूर्वक काम लिया भी जा रहा है |

ऐसे में अगर आप दुनिया में तेजी से अपडेट हो रही इस एक्टिविटी से परचित नहीं है तो आप कही आज के ग्लोबल वर्ल्ड में पिछड़ न जाये, इसलिए आज हम आपको वर्तमान के सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी Machine Learning क्या है? ये कैसे काम करता है और इसके क्या फायदे हैं उनके बारे में विस्तार से आपको बताएंगे | तो चलिए जानते हैं –

Machine Learning क्या है – What is Machine Learning in Hindi

Machine Learning क्या है

Machine Learning आर्टिफीसियल इंटेलिजेन्स का एक भाग है | जो की सिस्टम या फिर ये कहें की कंप्यूटर को ये काबिलियत प्रदान करता है की वो खुद सीख सके और जरुरत पड़ने पर खुद को अपडेट भी कर सकें |

दोस्तों आसान तरीके से बताऊ तो – कंप्यूटर algorithm की मदद से मशीन खुद सीखना शुरू कर देती है और समय -समय पर खुद को अपडेट भी कर सकती है इसमें मशीन को इतना कुशल बनाया जाता है की next time से वो खुद अपने पिछले अनुभवों से सीखकर कार्य करना शुरू कर देती है |

basically दोस्तों किसी सिस्टम या कंप्यूटर को algorithm मदद से इस तरीके से प्रोग्राम किया जाता की वो यूजर के query के मुताबिक जवाब दे सके या फिर काम कर सके | और साथ ही यूजर की कमांड और उससे जुडी पुरे डाटा को भी स्टोर कर सके |

Machine Learning इस बात पर फोकस करता है की कंप्यूटर की लर्निंग का विकास हो जो की खुद ही डेटा को एक्सेस कर पाये और फिर बाद में उसे खुद के ही लर्निंग के लिए इस्तेमाल करें |

Basically मशीन की सीखने के जो प्रोसेस है, वो डेटा और ऑब्जरवेशन से शुरू होती है जिसमे अनुभव या instruction के जरिये, मशीन जो डेटा उसके पास है उसमे से पैटर्न की तलाश कर सके और फ्यूचर में ह्यूमन द्वारा दिए गए example के आधार पर बेहतर decision ले पाये |

यह भी पढ़े :

BYJU’S App क्या है और क्या काम करता है – पूरी जानकारी

Best Computer Courses after 12th – पूरी जानकारी हिंदी में

Digital Marketing क्या है और क्यों जरुरी है – जानिए

Blog क्या है और Blogging कैसे की जाती है ?

ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए ? जानिए इन 10 तरीकों से

दोस्तों कुल मिलाकर Machine Learning बनाने के पीछे का मुख्य उद्देश्य यही है की कंप्यूटर बिना किसी इंसान की मदद के खुद ही सीख सके और उसके हिसाब से ही कार्यों को पूरा करे | मतलब की इंसान अपने दिमाग जैसा ही एक दूसरा इंसान बनाना चाहता है जो काम को जल्दी भी कर पाए और किसी भी प्रकार की गलती भी न हो |

मुझे पूरी उम्मीद है दोस्तों अभी आप अच्छे से समझ गए होंगे की Machine Learning क्या है? आइये अब जानते ये काम कैसे करती है –

Machine Learning काम कैसे करती है

दोस्तों जैसे की आपको हमने ऊपर बताया की Machine Learning आर्टिफीसियल इंटेलिजेन्स का एक भाग है जो कंप्यूटर को इंसानो जैसा सोचने के बारे में सोचना सिखाता है | जैसे की अपने पिछले अनुभवों से सीखना और उन्हें improve करना |

Machine Learning आमतौर पर डेटा की खोज और पैटर्न की पहचान करके काम करता है | और इस पुरे काम में ह्यूमन का कम -से -कम दखल रहता है | कुल मिलाकर इंसान एक ऐसी मशीन बना देना चाहता है जो जटिल -से -जटिल कामो को पहचान कर उन्हें ठीक कर सके जो आमतौर पर आम इंसान नहीं कर पाते हैं या फिर उन्हें काफी समय लगता है |

Machine Learning किस तरीके से काम करता है ? ये समझने के लिए हमे उसके अल्गोरिथम के प्रकारो के बारे में जानना होगा तो चलिए विस्तार से जानते हैं –

Machine Learning के प्रकार

Machine Learning अल्गोरिथम मुख्य रूप से चार प्रकार के होते हैं –

supervised

unsupervised

semi-supervised

Reinforcement

#1. supervised – इस प्रकार के अल्गोरिथम में मशीन से अपने पिछले अनुभवों से जो सीखा हुआ होता है उसे वो नये डेटा में लागु करता है | ताकि वो पहले से दिए गए example का उपयोग करके फ्यूचर में होने वाली घटनाओ का अनुमान लगा सके |

supervised अल्गोरिथम में मशीन को इनपुट के तौर पर अलग -अलग प्रकार के उदाहरण और जवाब दिए जाते हैं | जिससे ये अल्गोरिथम इन सभी उदाहरणों से सीखती है और दिए गए इनपुट के आधार पर सही आउटपुट का अनुमान लगाती है |

#2. unsupervised – इस प्रकार के अल्गोरिथम में मशीन को example और जवाब पहले से नहीं दिए जाते हैं | बल्कि इसमें अल्गोरिथम को डेटा के आधार पर अनुमान लगाना होता है | इसलिए ये अल्गोरिथम टेस्ट या फिर रियल डेटा सीखते हैं |

unsupervised अल्गोरिथम, डेटा में समानताओं की पहचान करता है | और देता के प्रत्येक नये टुकड़े की उपस्थिति या फिर अनुपस्थति के आधार पर आउटपुट देता है |

#3. semi-supervised– इस प्रकार के अल्गोरिथम ऊपर बताये गए दोनों अल्गोरिथम के बीच में आता है | क्योंकि परीक्षण के लिए ये दोनों labeled और unlabeled का इस्तेमाल करता है |

मै आपको बता दूँ की वो सिस्टम जो इस प्रकार के अल्गोरिथम का इस्तेमाल करता है , वो बड़ी ही आसानी से अपनी लर्निंग ability को समय -समय पर सुधार करने में काफी सक्षम होता है |

#4. Reinforcement – ये basically एक सीखने की विधि है जो क्रियाओं को प्रस्तुत करके अपने आस -पास के एरिया से बातचीत करता है |

ट्रायल और errors को खोज निकालना और उनके बारे में पता लगाना Reinforcement अल्गोरिथम की खासियत है |

ये मेथड या अल्गोरिथम मशीन और सॉफ्टवेयर एजेंट्स को किसी भी विशेष निर्देश की गतिबिधियों का खुद से पता लगाने में हेल्प करता है | ताकि ये सिस्टम की परफॉरमेंस को और बेहतर बना पाये |

अभी तक दोस्तों आपने इस पोस्ट के जरिये जाना की Machine Learning क्या है? और ये कैसे काम करता है लेकिन अभी आपके मन में जो मुख्य सवाल आ रहा होगा को एक्चुअल में Machine Learning के इस्तेमाल अभी कहाँ -कहाँ हो रहा है और क्या हम भी इसका हिस्सा हैं तो चलिए जानते हैं –

Machine Learning का इस्तेमाल कहाँ -कहाँ किया जा रहा है

दोस्तों क्या आपको पता है गूगल भी अपने कई पॉपुलर प्रोडक्ट में Machine Learning का इस्तेमाल करता है जैसे की – google translator सड़क पर लगे संकेत बोर्ड या फिर मेनू में लिखे शब्दों की फोटो लेकर उसमे मौजूद भाषा और शब्दों का पता लगाता है |

और साथ ही उसे आप की भाषा में ट्रांसलेट भी कर देता है | ये basically Machine Learning की अल्गोरिथम का ही कमाल है जिससे आप गूगल ट्रांसलेटर पर बोल कर भी पूछ सकते हो और Machine Learning के जरिये काम करने वाली speaker recognition methods  अपना काम शुरू कर देती है |

इस मेथड का उपयोग गूगल अपनी बाकि प्रोडक्ट में करता है जैसे की यूट्यूब पर भी आप अपने सवाल को लिखने के साथ -साथ बोलकर भी पूछ सकते हो |

Machine Learning का इस्तेमाल गूगल के अलावा फेसबुक ,इ-कॉमर्स वेबसाइट और email में भी होता है |

फेसबुक में Machine Learning का उपयोग ऑटमोटिक फ्रेंड्स tagging में किया जाता है | इसके अलावा दोस्तों आपने देखा होगा की जब आप किसी E-कॉमर्स वेबसाइट पर जाकर प्रोडक्ट देखते हो उसके बाद हर जगह आपको उसी से रिलेटेड जानकारी देखने को मिलती है |

example के तौर पर अभी आपने अमेज़न पर कुछ सर्च किया है और फिर कुछ देर बाद जब आप फेसबुक या यूट्यूब चलाते हो तो आपको अमेज़न की ad वहां पर show होने लगती हैं |

तो ये सब Machine Learning की वजह से ही हो रहा है जहाँ गूगल आपके हर एक्टिविटी पर नजर रखता है और आपके सर्च बिहेवियर के हिसाब से आपको Ad दिखा देता है |  

इसी तरीके से ईमेल में भी आपने देखा होगा की जो हमारी इम्पोर्टेन्ट mail होती हैं वो इनबॉक्स में आती है और बाकि मेल स्पैम में चली जाती है |

Machine Learning के फायदे

Machine Learning के उपयोग से इंसान की जिंदगी काफी आसान हो गयी है | कार्यो को बेहतर तरीके से करने के लिए Machine Learning का इस्तेमाल हर क्षेत्र में हो रहा है | जिसके लिए मशीनों को बहुत ही कारगर बनाया जा रहा है |

Machine Learning का इस्तेमाल रिटेल सेक्टर में ट्रेड को आसानी से समझकर फ्यूचर में होने वाली सेल का अनुमान लगाया जा सकता है | साथ ही जैसे की मैंने आपको ऊपर भी बताया की Machine Learning की मदद से यूजर की ब्राउज़िंग बिहेवियर को समझकर उनके लिए उचित प्रोडक्ट उन्हेंदिखाए जा सकते हैं जिससे सेल बढ़ती है |

इसके अलावा फाइनेंस सेक्टर में भी Machine Learning का इस्तेमाल हो रहा है जिसकी मदद से कस्टमर को उचित सेवा दी जा सके | साथ ही हेल्थ सेक्टर में भी Machine Learning का इस्तेमाल होता है जिसमे ह्यूमन की शारीरक मूवमेंट से उनकी बीमारी का पता लगाने में मदद मिलती है साथ ही बहुत कम खर्च में हेल्थ सुविधाएँ मिलती है |

जैसे की मैंने आपको ऊपर बताया की गूगल और फेसबुक जैसे बड़ी कंपनी भी Machine Learning का इस्तेमाल करके यूजर एक्सपीरियंस बेहतर बनाती हैं और उन्हें उनके इंटरनेस्ट के हिसाब से ad दिखाकर बिज़नेस को भी ग्रो करती है |

साइबर क्राइम को रोकने के लिए भी Machine Learning का इस्तेमाल होता है और कई और फील्ड में भी Machine Learning के इस्तेमाल करने की कोशिश तेजी से हो रही है |

और ये संभावना जताई जा रही है की आने वाले समय में Machine Learning का इस्तेमाल लगभग सभी क्षेत्र में होगा और एक करियर के तौर पर भी युवाओं के लिए Machine Learning बहुत ही बढ़िया फील्ड है जिसका स्कोप बहुत बेहतर है |

ये वीडियो हमने Quick Support यूट्यूब चैनल से लिया है |
 

निष्कर्ष

मुझे पूरी उम्मीद है दोस्तों इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप अच्छे से जान गए होंगे की Machine Learning क्या है ,कैसे काम करता है और इसके क्या फायदें हैं |

अगर आपके मन में हमारे इस पोस्ट को लेकर कोई भी सुझाव या सवाल हो तो आप हमे कमेंट करके बता सकते हो |

और आपको हमारा ये पोस्ट useful लगा हो तो प्लीज सोशल मीडिया पर शेयर भी करें और साथ ही हमे भी हमारे सोशल मीडिया पेज पर फॉलो करें और हमारे email newsletter को भी सब्सक्राइब करें ताकि ऐसी ही बढ़िया जानकारी आपको हमारे द्वारा मिलती रहे |

Deepak Bhandari

मेरा नाम दीपक भण्डारी है और मैं उत्तराखंड का रहने वाला हूँ और मुझे इंटरनेट से जुडी चीज़ों खासकर ब्लॉग्गिंग और डिजिटल मार्केटिंग के बारे में जानना और उसके बारे में लिखना बहुत पसंद है | मैं अपने इस ब्लॉग के जरिये सभी को आज के दौर की सबसे बड़ी डिजिटल क्रांति से जोड़ने का प्रयास करता रहूंगा |

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Krishna

Hey! 🖐️Can You Allow Guest Post. I Will Also Make Guest Post For Your Website 🤝♥️

IMG_tnaiem.jpg

Contact Us